Wednesday, March 9, 2022

UPSC 2022:Journey from IAS aspirant to IAS Officer || फॉर्म भरने से लेकर Interview तक ||prabhat exam

 Journey from IAS aspirant to IAS Officer

आईएएस aspirant से आईएएस ऑफिसर बनने तक का सफर बहुत ही दिलचस्प होता है, इस दौरान तैयारी आकर रहे छात्रों में बहुत से बदलाव आ जाते हैं। और यह बदलाव सिर्फ उसकी intellect या बौद्धिक क्षमता में ही नहीं बल्कि उसकी पर्सनेलिटी और उसकी लाइफ स्टाइल में भी दिखाई देता है। तो कैसा होता है आईएएस aspirant से IAS ऑफिसर बनने का सफर, आइये जानते हैं आज के वीडियो में। 

नमस्कार, स्वागत है आपका Prabhat Exam के Youtube Channel पर। ये एक ऐसा Platform है, जहां आपको मिलती हैं सभी Competitive exams से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां, जो आपकी किसी भी exam में सफल में होने में काफी मदद कर सकती हैं। अगर आप हमारे YouTube Channel पर पहली बार आए हैं, तो हमें Like और Subsribe ज़रूर करें और हमारे latest videos और updates सबसे पहले आप तक पहुँचें। इसके लिए Bell icon को press करना ना भूलें। तो आइए शुरुआत करते हैं आज के video की, जो है –

Journey from IAS aspirant to IAS Officer.


वैसे तो यूपीएससी ने सिविल सेवा में भर्ती के लिए मिनिमम qualification graduation निर्धारित की है, लेकिन यह जरूरी नहीं कि आप अपनी तैयारी graduation पूरी होने के बाद ही करें। सच तो यह है कि आप जितनी जल्दी सिविल सर्विसेस की तैयारी शुरू करेंगे, आपके सफल होने की संभावना भी उतनी ज्यादा होगी।

 तो हाँ, जिस सफर की बात कर रहे थे वो उसी दिन से शुरू हो जाता है जिस दिन आप सिविल सर्विसेस परीक्षा में अपियर होने का निर्णय पूरी ईमानदारी और गंभीरता से कर लेते हैं। अर्थात जिस दिन आप यह तय करते हैं कि आपको एक आईएएस ऑफिसर बनना है, आपका सफर उसी दिन से शुरू हो जाता है और उस दिन से आप महज एक कॉलेज स्टूडेंट नहीं रह जाते बल्कि आप एक IAS aspirant बन जाते हैं।

इस सफर की शुरुआत करने के लिए अपने लक्ष्य, आगे आने वाले पड़ाव और मुश्किलों को समझना बेहद जरूरी है। सबसे पहले अपने लक्ष्य को पहचानें। दोस्तो, कई बार हम भेड़ चाल का शिकार होकर भीड़ का हिस्सा बन जाते हैं और उसी में खोकर रह जाते हैं।

सबसे पहले अपने आपसे पूछिये कि आप आईएएस exam की तैयारी क्यों करना चाहते हैं? क्या सिर्फ इसलिए कि आपके दोस्त ऐसा कर रहे हैं, या इसलिए कि आपके माता-पिता ऐसा चाहते हैं? या फिर आप आईएएस की तैयारी इसलिए करना चाहते हैं क्योंकि आप जीवन में उस मुकाम तक पहुंचना चाहते हैं जहां पहुँचने का सपना हर भारतीय कभी-न-कभी देखता है। अगर यात्रा का कारण स्पष्ट नहीं होगा तो वह यात्रा बेमानी होगी। अब बारी है अपनी मंजिल को समझने की।

एक आईएएस ऑफिसर होता क्या है? आईएएस ऑफिसर बनने के क्या मायने हैं? आईएएस ऑफिसर बन जाने के बाद जीवन में कैसे बदलाव आते हैं? इस तरह के सवालों के जवाब ढूंढ़ें। यदि आप अपनी मंजिल को ठीक से समझेंगे नहीं तो वहाँ तक पहुँचने के लिए नए-नए रास्ते कैसे बन पाएंगे? जब आपके मन में यह सब पूरी तरह से स्पष्ट हो जाए तब आप इस सफर के लिए खुद को तैयार कर सकते हैं।

अब बात इस सफर को यानि इस परीक्षा के पैटर्न को अच्छी तरह से समझने की है। सामान्य कोटे और आर्थिक रूप से पिछडे़ वर्ग के विद्यार्थी के लिए आयु सीमा 21 से लेकर 32 वर्ष तक है। इन 12 वर्षों में उन्हें 6 मौके दिये जाते हैं। आरक्षित वर्ग में ओबीसी students के लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष है और इन्हें 9 मौके दिये जाते हैं। अनुसूचित जाति और जनजाति के लिए अधिकतम आयु सीमा 37 वर्ष और मौकों पर कोई अधिकतम सीमा निर्धारित नहीं है।

यह परीक्षा तीन चरणों में आयोजित की जाती है और हर चरण बाकी दोनों से अलग होता है। इसीलिए इस परीक्षा के अलग-अलग चरणों की तैयारी भी अलग-अलग ढंग से करनी होगी। सबसे पहला चरण prelims का होता है। यह आपके ज्ञान और analytical skills की परीक्षा होती है। इसमें आपको सिर्फ यह साबित करना होता है कि जो सवाल आपसे पूछे गए हैं उनके जवाब आपको पता हैं। मुख्य लिखित परीक्षा में आपके ज्ञान, और विचार के साथ आपकी लिखने की क्षमता की जांच होती है। इस चरण में सफल होने के लिए अच्छी लेखन शैली भी बहुत महत्वपूर्ण होती है। 

मुख्यतः यह परीक्षा यह जाँचने के लिए होती है कि देश और दुनिया के विभिन्न विषयों और मुद्दों पर आप क्या राय रखते हैं। यह परीक्षा बहुत ही unique होती है। इसमें आपको एक ऑप्शनल paper भी select करना पड़ता है। IAS की परीक्षा में विषयों का चयन एक महत्वपूर्ण चरण होता है, इसी पर आपकी सफलता निर्धारित होती है।

तीसरा चरण है साक्षात्कार। प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा पास करने के बाद उम्मीदवार को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है। यह IAS एग्जाम का अंतिम चरण इंटरव्यू है जिसमें सफल होने पर आपको फ़ाइनल call letter मिलता है। IAS एग्जाम के इंटरव्यू का कोई पैटर्न नहीं होता है। ये किसी भी विषय से जुड़ा हो सकता है।

आईएएस इंटरव्यू के सवाल थोड़े अलग टाइप के हो सकते हैं। साक्षात्कार की सभी प्रक्रियाओं के पूरा होने के एक सप्ताह के भीतर सबसे बड़ी प्रतिस्पर्धी परीक्षा के नतीजे आ जाते हैं और प्रत्याशी की यात्रा ऑफिसर बनकर खत्म होती है।

अगर आपको हमारा ये video पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share करें, और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल है, तो उसे Comment में लिखकर हमें बताएँ। जल्द ही आपसे फिर मुलाकात होगी एक नए topic पर एक नए video के साथ।

देखते रहिए 

Prabhat Exams

नमस्कार

Follow Us :   Youtube    Twitter     Telegram    Facebook    Instagram      Whatsapp


No comments:

Post a Comment