Monday, September 21, 2020

बिना पुस्तकों के कैसे करें IAS की तैयारी?| How to Prepare For IAS Without Books?| UPSC Civil Services

क्या ये सुनकर आपको आश्चर्य हो रहा कि बिना पुस्तकों को पढ़े भी आप सिविल सेवा परीक्षा को पास कर सकते हैं. अगर हो रहा है तो कुछ देर रूकिये, इस विडियो को पूरा देखिये और फिर आप बभी मान जायेंगे कि ऐसा संभव है. आप सब जानते ही हैं कि COVID-19 के इस महामारी और आसानी से और सस्ते दामों में उपलब्ध इंन्टरनेट सुविधाएं, cheap स्मार्ट फोन, लैपटॉप, टैबलेट्स इत्यादि के कारण IAS उम्मीदवारों के पढ़ाई करने की प्रवृत्ति में बहुत बड़ा बदलाव आया है। डिजिटल के इस दौर में IAS उम्मीदवारों की निर्भरता किताबों की पारम्परिक प्रतियों पर कम देखा जा सकता है। दरअसल IAS उम्मीदवार डिजिटल ई-बुक्स/ई-रीडिंग्स पर ज्यादा दिलचस्पी दिखा रहे हैं।


IAS उम्मीदवारों की आवश्यकता एवं रूचि को देखते हुए, अनगिनत शिक्षा-संस्थानों ने वेब स्पेस पर IAS परीक्षा संबंधी अध्ययन सामग्री, टेस्ट-सीरीज, डिस्कशन फोरम इत्यादि जैसी सुविधाएं उप्लब्ध करा रही हैं। वेब स्पेस पर हज़ारों की संख्यां में उप्लब्ध IAS परीक्षा संबंधी अध्ययन सामग्री के बावजूद, IAS उम्मीदवार इस बात को लेकर परेशान दिखते हैं कि IAS परीक्षा की तैयारी के लिए बेहतर विकल्प कौनसा है।

सिविल सेवा परीक्षा के लिए इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से तैयारी कर रहे IAS उम्मीदवारों के लाभ हेतु, प्रभात एग्जाम कुछ उपयोगी टिप्स प्रदान कर रहे हैं जो कि IAS प्रारंभिक परीक्षा से लेकर IAS परीक्षा के अंतिम चरण तक लाभकारी साबित होगा।


1.
ई-पेपर्स की सदस्यता लें


IAS परीक्षा में करेंट अफेयर्स के बढ़ते महत्त्व को देखते हुए, IAS परीक्षा पास करने के लिए रोजाना दैनिक अखबारों का पढ़ना बहुत हीं आवश्यक है। IAS परीक्षा की दृष्टि से महत्त्वपूर्ण अखबार जैसे- दि हिन्दू, दि इंडियन एक्सप्रेस, दैनिक जागरण इत्यादि इलेक्ट्रॉनिक प्रारूप में भी उपलब्ध हैं। गौरतलब बात यह है कि यह सभी अखबारों की ई-प्रतियां हार्ड-प्रतियां के मुकाबले सस्ती कीमत पर उपलब्ध है। वार्षिक सब्स्क्रिप्शन में यह सभी अखबार और सस्ती कीमत पर उपलब्ध है। ई-पेपर के कई फायदे हैं- ई-पेपर को दूर-बैठे अपने मित्रों के साथ साझा भी कर सकते हैं तथा इसे अपने स्मार्ट फोन, लैपटॉप, टैबलेट्स इत्यादि में स्टोर भी कर सकते हैं।


2. ई-पुस्तकें पढ़ें


IAS परीक्षा से संबंधित लगभग सभी महत्वपूर्ण पुस्तकों की ई-प्रतियां उपलब्ध हैं। IAS परीक्षा की तैयारी के लिए महत्त्वपूर्ण माने जाने वाली पुस्तकें जैसे- एनसीईआरटी, इग्नू और एनआईओएस द्वारा प्रकाशित सभी अध्ययन सामग्री ऑनलाईन मुफ्त में उपलब्ध है। IAS उम्मीदवारों को इन पुस्तकों पर पैसे खर्च करने के बजाय मुफ्त में उपलब्ध ऑनलाईन अध्ययन सामग्रियों का भरपूर लाभ उठाना चाहिए।


3. वेबसाइट्स की मदद लें


वेबसाइट्स 'डिजिटल रीडिंग' का एक अभिन्न अंग है तथा इसके माध्यम से विभिन्न रीडिंग्स का लाभ मुफ्त में उठाया जा सकता है। कई वेबसाइट ऐसे भी हैं जो IAS परीक्षा से संबंधित महत्त्वपूर्ण सामग्री टेक्स्ट तथा विडियो, दोनों ही फॉर्मेट में प्रदान करते हैं। सामाजिक और आर्थिक क्षेत्र में सरकार की गतिविधियों को जानने के लिए सरकारी वेबसाइट तथा पीआईबी, ऑल इंडिया रेडियो, डीडी न्यूज़, नीती आयोग इत्यादि जैसे वेबसाइट तक आसानी से पहुंच सकते है। इसके अलावा, IAS परीक्षा से संबंधित वेब पोर्टल्स जैसे Mrunal, iasbaba, unacademy, forumias, insightsonindia इत्यादि IAS परीक्षा की तैयारी के लिए उपयोगी अध्ययन सामग्री- टेस्ट सीरीज, मॉक टेस्ट, अभ्यास प्रश्न-पत्र, IAS टॉपरों के विडियो, पिछले वर्षों के प्रश्न-पत्र तथा उनका हल जैसी महत्त्वपूर्ण सुविधाएं प्रदान करते हैं।


इसके अलावा, IAS परीक्षा की तैयारी के दौरान, IAS उम्मीदवार विकिपीडिया, अर्थपीडिया, ब्रिटानिया एन्साइक्लोपीडिया, ऑनलाइन भाषा और विषय विशिष्ट शब्दकोशों के उपयोग से IAS परीक्षा को पास करने का रास्ता आसान बना सकते है।

4. मोबाइल एप्लिकेशन का उपयोग करें


वेबसाइटों के ठीक विपरीत, मोबाइल एप्लिकेशन (मोबाइल ऐप) के माध्यम से IAS उम्मीदवार IAS परीक्षा की तैयारी में अपना ध्यान केन्द्रित कर सकते हैं। मोबाइल एप्लिकेशन कई मायने में IAS परीक्षा की दृष्टि से वेबसाइटों से बेहतर समझा जाता है। मोबाइल एप्लिकेशन जैसे- अनअकैडमी, विज़नआईएएस, मुरुणाल, जीकेटूडे इत्यादि IAS परीक्षा की तैयारी के लिए काफी लाभकारी साबित हो सकता है।

 

5. ऑनलाइन पत्रिकाओं का उपयोग करें


ई-पेपर तथा ई-बुक्स के अलावा, IAS परीक्षा में सफलता हासिल करने के क्रम में ऑनलाइन पत्रिकाएं भी महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। ऑनलाइन पत्रिकाएं जैसे- योजना, कुरुक्षेत्र, डाउन टू अर्थ, फ्रंटलाइन, आउटलुक आदि जैसे महत्वपूर्ण पत्रिकाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं। जबकि योजना एवं कुरुक्षेत्र जैसी पत्रिकाओं का मुल्य बहुत की कम होता है लेकिन ऊपर वर्णित अन्य पत्रिकाएं प्रीमियम पर उपलब्ध है।

 

6. ऑनलाईन जर्नल्स की मदद लें


उपलब्ध ऑनलाईन जर्नल्स IAS परीक्षा की तैयारी के लिए अतिरिक्त अध्ययन सामग्री के रूप में उपोग किया जा सकता है। IAS परीक्षा की तैयारी के उपयोगी जर्नल्स इस प्रकार हैं- इकोनॉमिक एंड पॉलिटिकल वीकली, इंडियन जर्नल ऑफ पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन तथा इंडियन कॉउंसिल फॉर कल्चरल रिलेशन द्वारा प्रकाषित जर्नल।

 

IAS परीक्षा की तैयारी के लिए पारंपरिक ढंग से अध्ययन की तुलना में डिजिटल/ई-रीडिंग के फायदे इस प्रकार हैः


- डिजिटल/ई-रीडिंग के माध्यम से विभिन्न विषयों के नोट बनाना अधिक आसान है। काफी सरल तरीके से महत्वपूर्ण तथ्यों, आंकड़ों और उद्धरणों को कॉपी और पेस्ट कर सकते हैं। IAS उम्मीदवार खुद के बनाये नोट्स को अपने डेस्कटॉप/लैपटॉप पर आसानी से संपादित एवं पुनः लेखन कर सकते हैं। इच्छानुसार, अपने नोट्स को चित्र तथा वीडियो के माध्यम से और बेहतर बना सकते हैं। अपने नोट्स को Google ड्राइव जैसे फाइल स्टोरेज सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।

- नोट्स बनाने के अलावा, ई-रीडिंग के माध्यम से IAS उम्मीदवार IAS परीक्षा की तैयारी करने की शैली में बहतर बदलाव ला सकते हैं।

- IAS परीक्षा की तैयारी के दौरान ई-रीडिंग में माध्यम को अपनाने वाले IAS उम्मीदवार अखबार, पत्रिकाओं, पुस्तकों को खरीदने के क्रम में होने वाले अत्यधिक खर्च पर भी रोक लगा सकते हैं।

मनुष्य के जीवन में बदलाव एक निरंतर प्रक्रिया है जो IAS उम्मीदवारों के साथ-साथ हर मनुष्यों पर लागू होता है। डिजिटल रीडिंग के बढ़ते उपयोग का फायदा सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों को भरपूर फायदा उठाना चाहिए। हालांकि, शुरुआत मे डिजिटल उपकरणों के उपयोग में कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है लेकिन सतत प्रयासों के बाद बेहतर परिणामों की कल्पना कर सकते हैं।

👉Visit us: Prabhat Exam

👉 Please Subscribe Our Telegram Channel: https://t.me/prabhatexam





 

 

No comments:

Post a Comment