Thursday, October 1, 2020

BPSC में TOP POST कौन-कौन सी होते हैं || Top Posts in BPSC || BPSC POST DETAILS

BPSC यानि बिहार लोक सेवा आयोग का 66 वां notification आ चूका है और आप सब काफी excited भी होंगे, क्योंकि वर्षों से जिस परीक्षा की आप तैयारी कर रहे थे अब उससे परखने का वक्त आ गया है. आप सब को पता है कि सरकारी क्षेत्र में विभिन्न पदों पर उम्मीदवारों की भर्ती करने के लिए BPSC हर साल ये परीक्षा आयोजित करता है. यह सबसे प्रतिष्ठित परीक्षाओं में से एक है और हर साल बड़ी संख्या में आवेदक परीक्षा के लिए उपस्थित होते हैं. इस विडियो में, हम BPSC के अंतर्गत आने वाले विभिन्न पदों की चर्चा करेंगे और उसके साथ ही इन सारे पदों में सबसे अच्छा पद कौन कौन सा माना जाता है उसकी भी चर्चा करेंगे

तो पहले बात करते हैं BPSC के सभी पदों के बारे में, और वो है-

Assistant Planning Officer

Assistant Project Officer/Assistant Director

Assistant Director – Social Security

Assistant Director – Child Protection

Assistant Registrar

Bihar Administrative Services

Bihar Police Services

Bihar Financial Services

Bihar Home Guard Services

Bihar Probation Services (Probation Officer)

Bihar Education Services

Bihar Registration Services

Bihar Jail Services

Bihar Labour Services

Bihar Election Services

District Minority Welfare Officer

District Audit Officer

Municipal Executive Officer

Planning Officer/ District Planning Officer

Police Superintendent

Rural Development Officer

Sugarcane Officer

हालांकि ये सभी पद बहुत प्रतिष्ठा और सम्मान वाले हैं, लेकिन इनमें से भी कुछ पद ऐसे हैं जो शीर्ष पर यानि कि टॉप के पद माने जाते हैं. आईये देखते हैं वो पद कौन कौन से हैं-

Bihar Administrative Service:

प्रशासनिक सेवा के तहत पद जिम्मेदारियों से भरा है, जो अपने क्षेत्र में दिन-प्रतिदिन की घटनाओं और सामान्य जन-जीवन के लिए जिम्मेदार होता है. चाहे दिन हो या रात, हर वक़्त ड्यूटी पर मुस्तैद रहना पड़ता है. यदि अधिकारी संवेदनशील क्षेत्र में तैनात है तो उसे अधिक सतर्क रहना होगा. यह बहुत ही demanding वाला काम है. इस पदों के तहत, उम्मीदवारों को राज्य में सर्कल अधिकारी, SDM, वरिष्ठ उप कलेक्टर के रूप में नियुक्त किया जाता है

Bihar Police Service:

प्रशासनिक सेवाओं के पदों के बाद, दूसरा सबसे जिम्मेदार पद DSP का है. इस पदों के तहत, उम्मीदवारों को पुलिस उपाधीक्षक (DSP) के रूप में नियुक्त किया जाता है, जिनकी जिम्मेदारी क्षेत्र में कानून और व्यवस्था की निगरानी करना है. वह पुलिस विभाग की सुचारू कार्यप्रणाली सुनिश्चित करता है. उसे हर समय ड्यूटी के कॉल पर रहना पड़ता है क्योंकि वह अपने क्षेत्र में कानून और व्यवस्था के रखरखाव के लिए पूरी तरह जिम्मेदार होता है

Bihar Financial Service:

वित्तीय विभाग किसी भी राज्य की रीढ़ होती है और सरकार को इस बात का ध्यान रखना होगा कि वित्तीय संचालन में कोई अनियमितता न हो. अधिकारी को अपने कर्तव्यों को निभाने में बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है. इस पद पर अपने निर्णय पर ख़ास देखभाल की जरूरत होती है. इस पद के तहत, उम्मीदवारों को वाणिज्यिक कर अधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाता है. अधिकारियों को सरकार के कर संग्रह को सुनिश्चित करना चाहिए और सभी संबंधित मामलों को देखना होता है

Product Inspector:

राज्य उद्योग में कई प्रकार के उत्पाद बनाता या बनवाया जाता है. BPSC कई अधिकारियों को उत्पाद निरीक्षक के रूप में नियुक्त करता है जो अपने अधिकार क्षेत्र के तहत वस्तुओं और राज्य में उत्पादों से संबंधित मामलों की देखभाल करते हैं. अधिकारियों को अपने राज्य में विनिर्माण और गुणवत्ता आश्वासन की गतिविधियों की निगरानी करना होता है. उसे हर समय नजर रखने की जरूरत है क्योंकि कदाचार की संभावना हो सकती है

Rural Development Officer:

प्रत्येक राज्य सरकार का प्राथमिक काम होता है rural areas की देखभाल, क्योंकि states विकास के मामले में गांवो को पीछे नहीं छोड़ सकता है. BPSC से चयनित छात्रों को Rural development Officer के रूप में नियुक्त करता है ताकि rural areas में Development  activities को सुचारू रूप से चलाया जा सके. अधिकारी ग्रामीण लोगों के कल्याण के लिए सरकार द्वारा चलाई जाने वाली पहलों को लागू करते हैं. यह नौकरी ग्रामीण क्षेत्र के संपर्क में रहने का अवसर देती है

Bihar Labour Services:

प्रत्येक राज्यों में Industrial और manufacturing units होती है. कई लोग इन सेट-अप में काम करते हैं. इन लोगों के अधिकारों को कानून द्वारा संरक्षित किया जाना चाहिए. BPSC ऐसे मामलों की देखभाल के लिए श्रम अधिकारियों की भर्ती करता है. वे अपीलीय अधिकारी की तरह हैं जो लोगों की शिकायतों को सुनते हैं और उनका निवारण करते हैं. अधिकारी अपने क्षेत्र में श्रम कानूनों से संबंधित मामलों की योजना, कार्यान्वयन और देखरेख के लिए जिम्मेदार होंगे

Sugarcane Officer:

गन्ना बिहार के प्रमुख फसलों में से एक है जिसे किसान अपने खेतों में cash crop के रूप में उपजाते हैं. और गन्ना किसानों को हर साल बहुत सारे परेशानियों और मुद्दों जूझना पड़ता है और ऐसे में इस परेशानियों को हल करने में मदद करने वाला Sugarcane Officer होता है. गन्ना किसानों के लिए लाई गई योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए एक गन्ना अधिकारी जिम्मेदार होगा. वह एमएसपी और अन्य संबंधित चीजों की खरीद में सरकारी एजेंसियों की मदद करेगा. वह जागरूकता अभियान का नेतृत्व करेंगे जो गन्ना किसानों से संबंधित है

👉Visit us: Prabhat Exam BPSC Books

👉Visit For: BPSC Exam Details Video

No comments:

Post a Comment