Monday, March 14, 2022

UPSC के लिए Current affairs की तैयारी कैसे करें || How to Prepair Current affairs for UPSC 2022||Prabhat Exam

UPSC के लिए Current Affairs कब से कब तक के पढ़ने चाहिए?

UPSC परीक्षा में तीन अलग-अलग चरणों के लिए तीन भागों में तैयार एक विशाल सिलेबस है। हालांकि इन तीनों के पैटर्न अलग-अलग हो सकते हैं लेकिन इन तीनों में जो एक समानता बिंदु है वो है करेंट अफेयर्स। यह सिलेबस का एक बड़ा भाग होता है और अधिकतर अनिर्धारित भी होता है। IAS परीक्षा के लिए करंट अफेयर्स की तैयारी कैसे करें इसका पता लगाने की कोशिश करते हुए उम्‍मीदवार हमेशा खुद को कठिनाई में पाते हैं। इसीलिए आज के वीडियो में हम current affairs की तैयारी के बारे में चर्चा करने जा रहे हैं।

नमस्कार, स्वागत है आपका Prabhat Exam के Youtube Channel पर। ये एक ऐसा Platform है, जहां आपको मिलती हैं सभी Competitive exams से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां, जो आपकी किसी भी exam में सफल होने में काफी मदद कर सकती हैं। अगर आप हमारे YouTube Channel पर पहली बार आए हैं, तो हमें Like और Subscribe ज़रूर करें और हमारे latest videos और updates सबसे पहले आप तक पहुँचें इसके लिए Bell icon को press करना ना भूलें। तो आइए शुरुआत करते हैं आज के video की, जो है -

UPSC के लिए Current Affairs कब से कब तक के पने चाहिए?

यदि पिछले कुछ सालों के सवालों का आकलन करें तो पता चलता है कि करेंट affairs का आयाम यूपीएससी की परीक्षा में काफी व्यापक हो गया है और इसीलिए यह एक महत्वपूर्ण भाग बन गया है। प्री में तो अगर आप सिर्फ current affairs की अच्छी तैयारी कर लें तो भी शायद आप qualify कर लें।

अब आते हैं मूल सवाल पर, कि आखिर कितने दिन की घटनाओं को पढ़ लेने से current affairs की तैयारी पूरी हो सकती है। latest ट्रेंड्स को देख कर यह समझ आता है कि सिविल सर्विसेस परीक्षा में एक साल के current affairs पर अधिक जोर दिया जाता है।

मतलब, अगर आपको परीक्षा 2022 में देनी है तो आपको जनवरी अथवा फ़रवरी 2021 से करेंट affairs की तैयारी करनी चाहिए। अब आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि जब परीक्षा मई – जून में होने वाली है तो फिर करेंट affairs जनवरी से क्यों? दरअसल परीक्षा के लिए question paper February के महीने में ही प्रिंट हो जाते हैं इसीलिए उससे एक साल पहले से समसामयिकी पढ़ने से ही आप इसकी तैयारी कर सकते हैं।

यहाँ ध्यान देने वाली बात एक और है, जिस साल आपकी परीक्षा है उससे 6 महीने पहले की घटनाओं पर यूपीएससी विशेष ज़ोर देती है इसीलिए आप भी अपनी तैयारी उसी ढंग से करें और आखिरी के छह महीने के current affairs को ज्यादा गंभीरता से पढ़ें। 

एक बात और, परीक्षा की डेट से दो-तीन दिन पहले के current अफेयर्स पढ़कर कोई खास फायदा नहीं होने वाला क्योंकि उन घटनाओं से पहले ही क्वेश्चन पेपर प्रिंट हो चुके होंगे और उनके exam में पूछे जाने की संभावना ना के बराबर है।

अब थोड़ी बात कर लेते हैं इसकी तैयारी के बारे में।

समसामयिक घटनाओं के कई आयाम हो सकते हैं -

- समाज पर महत्वपूर्ण प्रभाव छोड़ने वाली घटनाएं

- संस्कृति से जुड़े हुए तथ्य

- राष्ट्र की मूल समस्याओं वाली जानकारियां

- विकास संबंधी कार्यक्रम

- किसी भी कारण से चर्चा में आए महत्वपूर्ण व्यक्ति एवं स्थान

- महत्वपूर्ण वैज्ञानिक आविष्कार एवं तथ्य

इनके अतिरिक्त भी कुछ महत्वपूर्ण समसामयिक तथ्य हो सकते हैं जैसे अंतर्राष्ट्रीय घटनाएँ और संबंध, लेकिन उनके बारे में पूर्व कल्पना कर पाना सम्भव नहीं है। इसको लेकर परेशान होने की जरूरत भी नहीं है। यदि आप नियमित रूप से समाचार सुनते रहेंगे, अखबार पढ़ते रहेंगे, तो आपके लिए यह काम खुद ही आसान हो जाएगा।

अंतर्राष्ट्रीय घटनाओं की तैयारी के लिए निम्‍न विषय ध्यान में रखे जाने चाहिए -

- भारत के महत्वपूर्ण देशों के साथ संबंध

- विश्‍व की समसामयिक महत्वपूर्ण समस्याएं

- अंतर्राष्‍ट्रीय संगठनों के बारे में जानकारी, जैसे- संयुक्त राष्ट्र संघ, विश्‍व बैंक, विश्‍व व्यापार संगठन, अंतर्राष्‍ट्रीय मुद्रा कोष आदि।

- कुछ महत्वपूर्ण संगठनों के बारे में जानकारी, जैसे - सार्क, ब्रिक्स तथा आसियान संगठन आदि।

- विश्‍व के महत्वपूर्ण देशों में घटने वाली ऐसी घटनाएं, जिनका भारत पर प्रत्यक्ष-अप्रत्यक्ष रूप से प्रभाव पड़ रहा हो, जैसे - चीन एवं अमेरिका की आर्थिक  नीतियां,  यूरोपीय आर्थिक समुदाय द्वारा लिए गए निर्णय तथा लेटिन अमेरिकी देशों के बदलते हुए राजनीतिक एवं आर्थिक परिदृश्‍य।

- आर्थिक उदारीकरण के परिप्रेक्ष्य में होने वाली अंतर्राष्‍ट्रीय बैठकें तथा महत्वपूर्ण नीतिगत घटनाएं

यदि आप इन बिन्दुओं को ध्यान में रखकर अपनी तैयारी करेंगे तो आप current affairs के सेक्शन में अच्छा स्कोर कर सकते हैं।

अगर आपको हमारा ये video पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share करें, और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल है, तो उसे Comment में लिखकर हमें बताएँ। जल्द ही आपसे फिर मुलाकात होगी एक नए topic पर, एक नए video के साथ।

देखते रहिए, 

Prabhat Exams

नमस्कार!

FOLLOW US ON:  Youtube    Twitter    Telegram    Facebook    Instagram    Whatsapp



No comments:

Post a Comment