Friday, September 25, 2020

अगर आप में है ये 5 गुण तो आप भी बन सकते हैं IAS!!

दोस्तों, UPSC क्रैक करना एक जंग है, और आपको इस जंग को हर हाल में फतह करना है. क्या है आप में वो हिम्मत, क्या है आप में वो जज्बा, तो फिर उठिए, खड़े होइए और कर डालिए नामुमकिन को मुमकिन. आपको ये सोचना है कि आपका जन्म कुछ बड़ा करने के लिए हुआ, आप साधारण नहीं, असाधारण है. जगाना होगा अपने विश्वास को, इस भीड़ से खुद को अलग करना होगा. आखिर वो क्या चीज़ है जो आपको रोक रही है, जो आप चाहते हैं वो करने नहीं दे रही है.

आज वो मंत्र हम आपको बताने जा रहे हैं. वो 5 बातें जिसे आप अपने भीतर पैदा करके IAS बन सकते है, किसी जिला का कलेक्टर बन सकते है. फिर क्या है वो बातें, आइये जानते हैं:

1. दूसरों की गलतियों से ही सीखो. खुद पर प्रयोग करके सीखोगे तो तुम्हारी आयु कम पड़ जाएगी. कुछ लोग हालात बदलने का प्रयास नहीं करते. जीवन जैसे चल रहा है, बस जीते चले जाते हैं. पर जो प्रगति करना चाहते हैं, ऊपर उठना चाहते हैं - वे अपना सब कुछ दांव पर लगाने से नहीं डरते. संभावना है कि वे हार जाएं, कुछ न कर पाएं लेकिन यह जो कुछ कर दिखाने का प्रयास है - यही उन्हें औरों से अलग बनाता है.

2. हमें भूत के बारे में पछतावा नहीं करना चाहिए और न ही भविष्य के बारे में चिंतित होना चाहिए. विवेकवान व्यक्ति हमेशा वर्तमान में जीते हैं. कोई काम शुरू करने से पहले, स्वयं से तीन सवाल जरूर कीजिये - मैं ये क्यों कर रहा हूं, इसके परिणाम क्या हो सकते हैं और क्या मैं सफल हो पाऊंगा? और जब गहराई से सोचने पर इन सवालों के संतोषजनक जवाब मिल जाएं, तभी आगे बढ़ें.

3. कोई व्यक्ति अपने कर्मों से ही महान बनता है, अपने जन्म से नहीं. भय को नजदीक न आने दो. अगर यह नजदीक आए तो इस पर हमला कर दो यानी भय से भागो मत इसका सामना करो.

4. एक बार जब आप कोई काम शुरु करते हैं, तो असफलता से डरे नहीं और ना ही उसे त्‍यागें.  ईमानदारी से काम करने वाले लोग खुश रहते हैं. ऐसे व्यक्ति जो आपके स्तर से ऊपर या नीचे के हैं, उन्हें दोस्त न बनाओ. वे तुम्हारे कष्ट का कारण बनेगे। समान स्तर के मित्र ही सुखदायक होते हैं.

5. शिक्षा सबसे अच्छी मित्र है. शिक्षित व्यक्ति सदैव सम्मान पाता है. शिक्षा की शक्ति के आगे युवा शक्ति और सौंदर्य, दोनों ही कमजोर हैं. किसी भी व्यक्ति को बहुत ईमानदार नहीं होना चाहिए. सीधे वृक्ष और व्यक्ति पहले काटे जाते हैं.

तो दोस्तों, ये थी 5 मूल तंत्र जिसके मदद से आप अपने अन्दर परिवर्तन ला सकते हैं. असफलता से सफलता की ओर बढ़ सकते हैं. तो फिर देर किस बात की- उठो,जागो, और जीत लो.


👉Visit us: Prabhat Exam UPSC Books

👉 Visit us for more: UPSC/IAS Motivational Video

👉 Follow us on-  

TELEGRAM  TWITTER  YOUTUBE    FACEBOOK   INSTAGRAM SHARECHAT










    


No comments:

Post a Comment