Tuesday, March 29, 2022

IAS बनने की दौड़ हिंदी मीडियम vs. अंग्रेजी मीडियम || Challenges & Solutions for Hindi Medium in upsc|| Prabhat Exam

HOW TO CHOOSE HINDI & ENGLISH MEDIUM IN UPSC 

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिये अभ्यर्थियों को इसके प्रत्येक चरण के लिये अलग-अलग रणनीति बनानी पड़ती है। साथ ही, उन्हें एक व्यापक रणनीति ऐसी भी बनानी होती है जो इन सारी रणनीतियों के बीच समुचित समन्वय स्थापित कर सके। भाषा का चयन भी ऐसी ही व्यापक रणनीति का हिस्सा है। आजकल अभ्यर्थियों के मन  में यह दुविधा हमेशा बनी रहती है कि आखिर वे अपनी भाषा का चयन किन कसौटियों के आधार पर करें। दूर से देखने पर यह भले ही कोई मामूली बात नज़र आती हो, लेकिन सीरियस candidates के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण पहलू होता है। तो आखिर किन parameters पर हमें अपने माध्यम या मीडियम का चुनाव करना चाहिए, आइए जानते हैं आज के वीडियो में। 

नमस्कार, स्वागत है आपका Prabhat Exam के Youtube Channel पर। ये एक ऐसा Platform है, जहां आपको मिलती हैं सभी Competitive exams से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां, जो आपकी किसी भी exam में सफल होने में काफी मदद कर सकती हैं। अगर आप हमारे YouTube Channel पर पहली बार आए हैं, तो हमें Like और Subscribe ज़रूर करें और हमारे latest videos और updates सबसे पहले आप तक पहुँचें इसके लिए Bell icon को press करना ना भूलें। तो आइए शुरुआत करते हैं आज के video की, जो है – 

HOW TO CHOOSE HINDI & ENGLISH MEDIUM IN UPSC 

  • यूपीएससी में मीडियम ऑफ examination के विषय पर हम दो बातें अक्सर सुनते हैं। पहला, यूपीएससी में सिलैक्ट होने वाले अधिकांश स्टूडेंट्स इंग्लिश मीडियम में exam देते हैं और दूसरा, यूपीएससी हिन्दी और इंग्लिश के स्टूडेंट्स में भेदभाव करती है। दोस्तो, पहली बात तो बिलकुल सच है, लेकिन दूसरी बात का कोई आधार नहीं मिलता है। 
  • यह सच है कि इंग्लिश मीडियम से सिलैक्ट होने वाले स्टूडेंट्स की संख्या बहुत ज्यादा है, लेकिन इसका कारण यह नहीं है यूपीएससी किसी तरह का भेदभाव करती है। दरअसल हमारा फॉर्मल एजुकेशन सिस्टम कुछ ऐसा बन गया है जिसमें इंग्लिश ने एक अनिवार्य भाषा का रूप ले लिया है और इस मीडियम में exam देने वाले students भी हिन्दी के मुक़ाबले में काफी अधिक हैं। अब लगभग हर स्टूडेंट कम-से-कम दसवीं तक तो इंग्लिश की पढ़ाई करता ही है। 
  • इसके अलावा दुनिया जिस तेजी से बदल रही है, उसमें इंग्लिश की पहुँच पूरी दुनिया में किसी और भाषा के मुक़ाबले ज्यादा तेजी से हो रही है। लेकिन एक सच यह भी है कि देश में हिन्दी का प्रसार भी काफी तेजी से हो रहा है और कई स्टूडेंट्स इस भाषा में खुद को ज्यादा comfortable महसूस करते हैं। वे हिन्दी में परीक्षा देते हैं और इसमें सफलता भी अर्जित करते हैं। अब सवाल यह उठता है कि आप अपनी मीडियम का selection किस आधार पर करें जिससे आपके सिलैक्ट होने के chances बढ़ जाएँ। 
  • यदि आपकी इंग्लिश हिन्दी से ज्यादा अच्छी हो तो इस सिचुएशन में आपको कुछ भी सोचे बिना इंग्लिश मीडियम में परीक्षा देनी चाहिए, क्योंकि कॉमन सेंस भी यही कहता है कि आप हिन्दी में यह परीक्षा पास तो नहीं कर पाएंगे। 
  • यदि आपकी इंग्लिश और हिन्दी दोनों समान रूप से अच्छी हो, यानि आप दोनों में equally comfortable हों, आपको तब भी इंग्लिश भाषा में ही परीक्षा देनी चाहिए क्योंकि इंग्लिश में थोड़ा advantage तो है, यही नहीं यदि आपकी इंग्लिश हिन्दी की तुलना में थोड़ी ही खराब है तो भी आपको इंग्लिश मीडियम से ही परीक्षा देनी चाहिए। 
  • दोस्तो, इंग्लिश मीडियम में सिलैक्ट होने के chances हमेशा ज्यादा होते हैं, इसमें कोई दोराय नहीं है और यूपीएससी की परीक्षा की तैयारी में आपको कई subjects इंग्लिश में ही पढ़ने पड़ेंगे। ऐसे में यदि आपकी परीक्षा का मीडियम इंग्लिश होगा तो आपको अलग से हिन्दी विषय पर मेहनत नहीं करनी पड़ेगी। लेकिन यह बात सिर्फ उन्हीं लोगों पर लागू होती है जिनकी इंग्लिश और हिन्दी या तो समान रूप से अच्छी है या उनमे 19-20 का ही फर्क है। 
  • यदि आपकी इंग्लिश खराब है तो आपके पास कोई ऑप्शन बचता ही नहीं है, आपको हिन्दी में ही परीक्षा देनी पड़ेगी। दिक्कत तब होती है जब आपकी इंग्लिश और हिन्दी दोनों ही खराब हों, ऐसी स्थिति में आपको हिन्दी का ही चयन करना चाहिए, क्योंकि उसमें आप ज्यादा सहज रहेंगे और अपनी बात को बेहतर ढंग से सामने रख सकेंगे। 
  • अपनी भाषा में सुधार लाने के लिए हर दिन कम-से-कम 5 नए शब्द अपनी vocabulary में जोड़िए। भाषा को सुधारने के लिए व्याकरण पर भी थोड़ा ध्यान दीजिये। लेकिन यह सब करने के लिए आपको अलग से किताब लेकर बैठने की जरूरत नहीं है। बस आप जो भी पढ़ रहे हैं उससे ही समझने की कोशिश कीजिये। परीक्षा में जहां तक संभव हो, तत्सम शब्दों का प्रयोग कीजिये क्योंकि उनका प्रभाव ज्यादा होता है। 

अगर आपको हमारा ये video पसंद आया हो, तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी ज़रूर Share करें, और अगर आपके पास हमारे लिए कोई सवाल है, तो उसे Comment में लिखकर हमें बताएँ। जल्द ही आपसे फिर मुलाकात होगी एक नए topic पर एक नए video के साथ। 

देखते रहिए 

Prabhat Exams

नमस्कार

Connect Us:  Youtube   Twitter   Telegram     Facebook     Instagram     Whatsapp 

You Can Buy Our Books online or call us- Whatsapp

👉 UPSC Books : https://amz.run/5Qxh

👉 GENERAL KNOWLEDGE Books : https://amz.run/5Qz2

👉 OTHER GOVERNMENT EXAMS : https://amz.run/5Qz

👉 IIT JEE & NEET AND ALL OTHER ENGINEERING & MEDICAL ENTRANCES : https://amz.run/5Qz6

👉 SSC Examination Books : https://amz.run/5Qz7

👉 DSSB Books : https://amz.run/5Qz9

👉 BANKING/INSURANCE EXAMS : https://amz.run/5QzC

👉 RRB, RRC, RPF/RPSF, NTPC & LEVEL-1 : https://amz.run/5QzF

👉 UGC BOOKS : https://amz.run/5QzH

👉 NVS BOOKS : https://amz.run/5QzJ

👉 BIHAR BOOKS : https://amz.run/5QzK

👉 *Rajasthan Books : https://amz.run/5QzP

👉 MADHYA PRADESH : https://amz.run/5QzR

👉 UTTAR PRADESH  :https://amz.run/5RAa


No comments:

Post a Comment