Tuesday, December 8, 2020

How to Crack IAS in First Attempt | UPSC 2020

 How to Crack IAS in First Attempt | UPSC 2020
 UPSC स्टूडेंट्स के लिए धमाका ऑफर - [Buy 2 books + 20 E-Books free]


Register Here by Paying Just Rs. 250/- 🤝 https://rzp.io/l/upsc2020


परीक्षा की समग्र, संपूर्ण और व्यापक तैयारी के टिप्स तैयारी के अनछुए पहलुओं पर खुलकर चर्चा परीक्षा के लिए कैसे सें अपना व्यक्तित्व सकारात्मकता और मोटिवेशन लेवल कैसे बनाए रखें प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के लिए विस्तृत मार्ग दर्शन निबंध और एथिक्स में श्रेष्ठ अंक कैसे पाएँ लेखन कौशल को कैसे सुधारें क्या पढ़ें, क्या न पढ़ें और कैसे पढ़ें नए पैटर्न में कैसी हो प्रासंगिक रणनीति साथ में सफलता की कुछ अनकही कहानियाँ भी...


नौकरी के साथ IAS की तैयारी कैसे करें ?

दुनिया के सबसे कठिन परीक्षा में शामिल होना कई लोगों के लिए बड़ी चुनौती है लेकिन full- time job के साथ IAS परीक्षा देना बिल्कुल ही अलग बात है। यदि आप भी full-time job के साथ IAS परीक्षा देने की योजना बना रहे हैं, तो निम्नलिखित Tips और Tricks UPSC की सिविल सेवा परीक्षा में सफल होने में निश्चित रूप से आपकी मदद करेंगें।


1. Time Management

IAS बनने की इच्छा रखने वाले के लिए उपलब्ध संसाधनों में समय सबसे कीमती और दुर्लभ संसाधन होता है। इसलिए full-time job करने वाले व्यक्ति के लिए उपलब्ध समय का अधिकतम उपयोग करना महत्वपूर्ण है। Working hours के घंटे के तौर पर यदि शिफ्ट 8 घंटे की मानें, तो IAS परीक्षा की तैयारी के लिए आप 3-4 घंटे से अधिक का समय नहीं निकाल पाएंगे। इसलिए एक पूरे दिन में आपको जितना भी समय मिले उसका बेहद समझदारी से उपयोग करना बहुत ज़रूरी है। 

2. मिनटों में पढ़ाई, घंटों में नहीं  

एक बात तो तय है कि कामकाजी पेशेवर के तौर पर IAS परीक्षा की तैयारी के लिए आप अलग से समय निकालने में सक्षम नहीं हो पाएंगे। इसलिए आपको अपने अध्ययन सत्रों की योजना बहुत सावधानी से बनानी होगी। सीमित समय का यह अर्थ भी है कि आपका हर सेकेंड महत्वपूर्ण है और यह अच्छा होगा कि आप घंटों की बजाए मिनटों के आधार पर पढ़ाई की योजना बनाएं। जैसे, यदि आप आधुनिक भारत का इतिहास कवर करना चाहते हैं, आप इसे कुछ छोटे विषयों में तोड़ सकते हैं जैसे–

  • 19वीं सदी के विद्रोह और सुधार

  • भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का गठन

  • गाँधी जी का राष्ट्रीय प्रभाव

  • भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन

  • भारत शासन अधिनियम 1935

अब इन विषयों को भी अन्य छोटे sub topics यानी उप-विषयों में बांट कर कुछ मिनटों में पढ़ा और कवर किया जा सकता है।   

3. अपने ऑफिस के करीब घर रखें 

वैसे तो ये आपकी परिस्थिति पर निर्भर करता है लेकिन निश्चित रूप से ये बहुत ही practical advice है। क्योंकि इससे आपको IAS की तैयारी के लिए अधिक समय मिल जाएगा। काम करने के स्थान यानि ऑफिस के पास घर होने से, आपके ऑफिस आने-जाने में लगने वाला समय बचेगा, जिसका उपयोग आप परीक्षा के लिए पढ़ाई में कर सकेंगे। एक और फायदा यह होगा कि इससे आपको थकान भी कम होगी। यदि आप घर वापस आने के बाद थकान कम महसूस करेंगे तो IAS की तैयारी पर फोकस कर पाएंगे, जिससे UPSC सिविल सर्विस परीक्षा में आपको बेहतर प्रदर्शन करने में मदद मिलेगी।

4. इंटरनेट पर पूरी तरह से निर्भर न रहें 

बात जब IAS की तैयारी की हो तो इंटरनेट निश्चित रूप से आपका सहयोगी बन जाता है। लेकिन यदि आप मेहनत नहीं करते तो यह आपका सबसे बड़ा दुश्मन भी हो सकता है। IAS की तैयारी में सिलेबस में आने वाले सभी विषयों के लिए एक Focussed approach की जरूरत होती है। इसमें Current Affairs और सामान्य ज्ञान भी शामिल है। इंटरनेट के साथ, आप जिस प्रकार की पढ़ाई करने सोच रहे हैं, उस पर से मुख्य फोकस हटने का खतरा हमेशा बना रहता है। चाहे वह नवीनतम memes हो, कोई वायरल वीडियो हो या मजेदार Tweet। ये कुछ सेकेंड कब घंटों में बदल जाते हैं पता ही नहीं चलता और बाद में आपके पास पछताने के सिवा कुछ नहीं रह जाता। 

6. Selective Study करें 

जब बात कामकाजी पेशेवरों के IAS की तैयारी की आती है, तो कम समय में तैयारी करना वाकई बहुत मुश्किल हो जाता है। एक तरीका है जिससे आप इस खामी को खूबी में बदल सकते हैं... और वो है... चुनींदा अध्ययन। UPSC सिविल सेवा परीक्षा का सिलेबस बहुत जटिल है और पूरा समय लगाकर IAS की तैयारी में जुटे छात्रों को भी सिलेबस को पूरा कवर करने में मुश्किल होती है। इसलिए, चुनींदा अध्ययन करना आपके लिए उपयुक्त होगा। चुनींदा अध्ययन का मतलब है, IAS के पूरे सिलेबस का विश्लेषण करना। 

7. अपनी नौकरी को अवसर के रूप में देखें, दायित्व के रूप में नहीं 

IAS की तैयारी कर रहे कामकाजी पेशेवर के तौर पर सबसे बड़ी गलती जो आप कर सकते हैं, वह यह है कि आप अपनी नौकरी को एक दायित्व समझ रहें हैं। IAS अधिकारी बनने के लक्ष्य में आपकी full-time या part-time नौकरी काफी सहायक है। यह भी देखा गया है कि IAS परीक्षा के interview round के दौरान, पैनल 25 वर्ष से अधिक उम्र के उम्मीदवारों के नौकरी में होने और भारत के जीडीपी में योगदान करने की उम्मीद करता है। सीधे शब्दों में कहें तो इसका अर्थ है कामकाजी पेशेवर होने के नाते साक्षात्कार में आपको अतिरिक्त अंक मिलेंगे। 

8. होशियार बनें Smart Study करें 

IAS परीक्षा की तैयारी करने वाले कामकाजी पेशेवरों के लिए एक और बहुत महत्वपूर्ण पहलू है, अपनी प्रतियोगिता को समझना। UPSC सिविल सेवा परीक्षा को दुनिया के सबसे competitive exam माना जाता है। हालांकि पहली नजर में आपकी प्रतियोगिता कठिन दिखाई दे सकती है। ध्यान देने की बात है कि IAS के कुल अभ्यर्थियों में से सिर्फ  30% ही गंभीरता से परीक्षा की तैयारी करते है। यदि आप उनसे आगे निकलना चाहते हैं, तो आपको उन्हें होशियारी से हराना होगा। याद रखें UPSC ऐसे विजेताओं की तलाश करता है जो देश का कुशल संचालन कर सकें। इसलिए यह आपका काम है कि आप साबित करें कि इस नौकरी के लिए आप बिल्कुल सही उम्मीदवार हैं। ऐसे ही और दिलचस्प और educational videos के लिए देखते रहिए Prabhat Exams

नमस्कार>>>


👉Books For IAS Exam Playlist: https://bit.ly/3j1wqAaa 👉Motivational Videos to Become an IAS Playlist: https://bit.ly/2EjaF6O 👉IAS के लिए newspaper कैसे पढ़ें?- https://youtu.be/av0ozsfFOPo

Contact Us
Whatsapp:- 7827007777
Whatsapp Us Click Here:- https://wa.me/917827907777

No comments:

Post a Comment

Imp Post

भारत के Top महिला IAS अधिकारी || Top Women IAS Officer of India

 UPSC के रैंक लिस्ट में हर साल महिलाओं ने अपनी प्रतिभा और मेहनत के बल पर उच्च स्थान पायी है और सिविल सेवा में रहते हुए देश के विकास में अपन...