Wednesday, October 7, 2020

5 Best Magazines for UPSC IAS Preparation

UPSC IAS की preparation में Magazines का एक अहम् रोल होता है. यह एक आपके तैयारी के लिए एक इंधन का काम करती है और बहुत उपयोगी भी है। यूपीएससी की तैयारी के लिए कई करंट अफेयर्स पत्रिकाएँ उपलब्ध हैं लेकिन आपको बाज़ार की सभी पत्रिकाओं को पढ़ने की आवश्यकता नहीं है। यूपीएससी के लिए कुछ चुनिंदा मासिक पत्रिकाओं के लेख पढ़ने से आपको सिविल सेवा प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा में उच्च स्कोर करने में मदद मिलेगी। जैसा कि लेख अलग-अलग विषयों पर अलग-अलग लेखकों द्वारा लिखे गए हैं, यह उम्मीदवारों को सोच और विचारों की एक विस्तृत श्रृंखला उत्पन्न करने में मदद करता है जो यूपीएससी आईएएस मेन्स परीक्षा के लिए और साक्षात्कार के दृष्टिकोण से फायदेमंद होता है 

यदि आप जानना चाहते है कि आपके UPSC IAS preparation के लिए कौन-कौन सी Magazines पढनी चाहिए, तो इस विडियो को पूरा अवश्य देखें- यहाँ हम आपको बतायेंगे कि आपके तैयारी के लिए सबसे सही कौन से मासिक पत्रिका है-

1. सबसे पहले- आप मासिक रूप से YOJANA Magazine को जरूर पढ़ें

योजना IAS परीक्षा के लिए सर्वश्रेष्ठ मासिक करंट अफेयर्स पत्रिका में से एक है। यह सामाजिक-आर्थिक मुद्दों से संबंधित है, जो भारतीय दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण हैं। योजना पत्रिका I & B मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रकाशित की जाती है। यह पत्रिका अब 13 भाषाओं-अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, तेलुगु, गुजराती, बंगाली, उर्दू, पंजाबी, मराठी, तमिल, कन्नड़, मलयालम और उड़िया में उपलब्ध है। यह आपको डेटा, तथ्य आदि देता है, जो सरकार के रिकार्ड्स में होते हैं

पिछले वर्षों में कई सफल उम्मीदवारों ने योजना को यूपीएससी की तैयारी के लिए सर्वश्रेष्ठ पत्रिका बताया है। हर साल एक या दो निबंध UPSC मुख्य परीक्षा में सीधे योजन पत्रिका से देखे जा सकते हैं। इसमें संघवाद, शासन, बजट, कृषि आदि जैसे महत्वपूर्ण विषय शामिल हैं। उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि आप NCERT और मूल अध्ययन सामग्री को पढ़ने के बाद ही योजना पढ़ें।

जैसा कि यह एक सरकारी पत्रिका है, यह एक संतुलित राय देता है -पक्ष और विपक्ष- जो सिविल सेवा परीक्षा के लिए आवश्यक हैं, विशेष रूप से मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार की तैयारी के लिए। योजना सामान्य अध्ययन पेपर II और पेपर III और निबंध पेपर के लिए सहायक है।

2. Kurukshetra Magazine

कुरुक्षेत्र ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रकाशित एक मासिक पत्रिका है। यह पूरी तरह से रूरल डेवलपमेंट से संबंधित है। वास्तव में, यह कृषि और ग्रामीण विकास से संबंधित विभिन्न मुद्दों की गंभीर चर्चा के लिए एक मंच के रूप में कार्य करता है। इससे उम्मीदवार को सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं को समझने में मदद मिलेगी। यह लोक प्रशासन में करियर के लिए बहुत उपयोगी है। सिविल सेवा परीक्षा में हाल के रुझान के अनुसार, यूपीएससी पर्यावरण और ग्रामीण विकास आदि पर ध्यान केंद्रित कर रहा है, इसलिए कुरुक्षेत्र पढ़ने से प्रारंभिक और मुख्य परीक्षा दोनों में मदद मिलेगी।

3. EPW- Economic and Political Weekly

Economic and Political Weekly एक प्रतिष्ठित और उत्कृष्ट सामाजिक विज्ञान पत्रिका है। IAS परीक्षा के लिए इस पत्रिका की उपयोगिता सीमित है। उनके लेख प्रकृति में technical होते हैं और जिन्हें कई कईबार पढ़ने की आवश्यकता होती है। यह सामाजिक विज्ञानों में अकादमिक पत्रों के साथ समकालीन मामलों का विश्लेषण प्रकाशित करता है। इकोनॉमिक एंड पॉलिटिकल वीकली का फोकस आर्थिक मुद्दे हैं, लेकिन यह समाजशास्त्र, राजनीति विज्ञान, इतिहास और पर्यावरण अध्ययन को कवर करने वाला एक बहु-विषयक प्रकाशन है। इसमें प्रमुख विषयों के विशेषज्ञों, प्रसिद्ध सार्वजनिक टिप्पणीकारों और राजनीतिक कार्यकर्ताओं द्वारा लेखों का योगदान दिया जाता है।

4. Down To Earth

यह पर्यावरण संबंधी मुद्दों और जागरूकता पर केंद्रित एक पाक्षिक पत्रिका है। यह भूगोल वैकल्पिक छात्रों के लिए बहुत उपयोगी है। उम्मीदवार को पाठ्यक्रम के अनुसार विषयों को पढ़ना और उनका विश्लेषण करना चाहिए।

5. Any Current Affairs Monthly Magazine

Current Affairs Monthly Magazine वर्तमान मामलों और National & International मुद्दों पर आधारित होती है फैक्ट्स और analysis दोनों का समन्वय स्थापित करती है. यह विशेष रूप से सिविल सेवा परीक्षा के लिए उपयोगी है। यह व्यापक रूप से यूपीएससी और अन्य प्रतियोगी परीक्षा के विषयों जैसे कि अर्थव्यवस्था, भूगोल, इतिहास, राजनीति, भारत के संविधान और वर्तमान मामलों को कवर करता है।

👉Visit us : Best Book For Cracking UPSC Exam

👉Visit For : UPSC/IAS Video

👉Follow us : You Tube Telegram Facebook Twitter

No comments:

Post a Comment